Home उत्तर प्रदेश अमेठी स्नातकों की पहली पसंद, “शिक्षा रोजगार परक होनी चाहिए”

स्नातकों की पहली पसंद, “शिक्षा रोजगार परक होनी चाहिए”

ब्यूरो अमेठी

12 जुलाई दिन वृहस्पतिवार को जनपद अमेठी के मुंशीगंज स्थित राजर्षि रणञ्जय सिंह इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलाजी (आरआरएसआईएमटी) में स्नातक और परास्नातक वर्ग के लिए एक कैरियर काउन्सलिंग और प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह मे जनपद के तीन सौ से अधिक छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम मे कैरियर काउन्सलिंग मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा। जिसमे प्रतिभागी छात्र-छात्राओं ने कैरियर सम्बन्धी विभिन्न प्रश्न पूंछे जिसका कैरियर विशेषज्ञों द्वारा जवाब दिया गया।
प्रियान्शू श्रीवास्तव ने कार्यक्रम के आयोजक संस्थान आरआरएसआईएमटी के विषय मे सभी प्रतिभागियों को परिचित कराया। आशीष त्रिपाठी ने स्नातक तक की शिक्षा के बाद उपलब्ध सभी कैरियर विकल्पों के बारे मे विस्तार से जानकारी दिया। संस्थान के एमबीए विभाग के पुराछात्र हिमांशु अग्रहरी ने अपने अनुभव सभी श्रोताओं से साझा किया।
युवाओं के लिए ‘रीबूटिंग माइंड’ नामक मोटिवेशनल चैनल के सम्पादक डॉ0 दीपक सिंह ने बताया कि लक्ष्य निर्धारण सफलता के लिए सबसे आवश्यक है। उन्होने कहा की अगर छात्र के अंदर स्किल और प्रभावी इच्छा शक्ति हो तो वह कामयाबी के शिखर तक जरूर पहुंचेगा।
कार्यक्रम मे आरआरएसआईएमटी के निदेशक कर्नल सुरेश कुमार गिगू ने बताया की अमेठी का विकास तभी संभव हो पाएगा जबकि यहाँ से निकलने वाले युवा रोजगार प्राप्त कर अपनी निजी अर्थव्यवस्था बेहतर कर सकेंगे।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तथा रानी सुषमा देवी महिला महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ0 पूनम सिंह ने कहा की लड़कियां भी शिक्षा के क्षेत्र मे बहुत आगे निकल रही हैं तथा विभिन्न प्रकार के कैरियर मे अपना नाम रोशन कर रही हैं। लाल विजयानंद महाविद्यालय के प्रबन्धक महेंद्र तिवारी ने उपस्थित प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा की सफलता प्राप्त करने के लिए विश्वास आवश्यक है।

अंत मे स्नातक वर्ग के टापर रूपा मौर्या 70.16% को प्रथम स्थान, अंशिका 69.70% को दूसरे स्थान और प्रिया 68.6% को तीसरे स्थान के लिए तथा परास्नातक वर्ग के टापर गीता देवी 65.2% को प्रथम स्थान, मोहित कुमार 63.8% को दूसरे स्थान और मीनाक्षी 63% को तीसरे स्थान के लिए लिए शील्ड, पदक तथा सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया गया तथा कार्यक्रम मे शामिल सभी मेधावी छात्रों को भी पदक तथा सर्टिफिकेट प्रदान किए गए। कार्यक्रम का कुशल संचालन राजेश श्रीवास्तव ने किया।

Facebook Comments