विद्यालय पढ़ाई एवम् खेल खिलौनों जैसे सभी संसाधनों से है युक्त

उन्नाव : कान्वेंट व आदर्श स्कूलों को टक्कर दे रहा है कर्ण ब्लॉक का प्राइमरी स्कूल बेथर प्रथम, स्कूल के छोटे-छोटे बच्चे पढ़ते हैं फर्राटे से अंग्रेजी

ब्लाक सिकंदरपुर कर्ण का मॉडल प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम (इंगलिश मीडियम) आदर्श व कॉन्वेंट स्कूलों को मात दे रहा है। बीईओ मधुलिका बाजपेई ने विद्यालय का शैक्षिक परिवेश गुणवत्ता समस्त स्टाफ की कार्यशैली उच्च कोटि की पाए जाने पर खूब सराहा था। बीती 19 नवम्बर को मॉडल स्कूल का उद्घाटन करने पहुँचे यशस्वी विधान सभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित जिलाधिकारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय एवम् बीएसए बी के शर्मा प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष बृजेश कुमार पाण्डेय आदि ने विद्यालय की व्यवस्था को देखकर खुशी जाहिर किया।
आदर्श व कॉन्वेंट स्कूलों को मात देने वाला सिकंदरपुर कर्ण ब्लॉक के बेथर गांव का प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम पढ़ाई एवम् खेल खिलौनों जैसे सभी संसाधनों से युक्त है। क्योंकि यह बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित मॉडल प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम (इंगलिश मीडियम) का आंखों देखा हाल है। यहाँ पर प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला ने ग्राम प्रधान श्रीकांती मिश्रा एवम् बच्चों के अभिभावकों से मिलकर विद्यालय के परिदृश्य को पूरी तरह बदल करके रख दिया है। प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम में प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला की तैनाती 2 अप्रैल 2016 को हुई थी। उस समय विद्यालय मूलभूत संसाधनों से वंचित था। मॉडल स्कूल की प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला के लगातार 2 वर्षो के अथक प्रयासों से विद्यालय की स्थिति में काफी सुधार हुआ। प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल 2018 में प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम का चयन अंग्रेजी माध्यम के लिये हो गया। उसके बाद जिलाधिकारी महोदय उन्नाव द्वारा गोद भी ले लिया गया। इसके पश्चात स्कूल की प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला एवम् ग्राम प्रधान श्रीकांती मिश्रा द्वारा प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम को आदर्श विद्यालय बनाने का काम युद्ध स्तर पर शुरू हुआ। विद्यालय का नाम मॉडल स्कूल में चयनित हो जाने के कारण सिर्फ दो महीने में विद्यालय भौतिक दृष्टिकोण एवम् सभी संसाधनों युक्त हो गया। प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला ने बताया कि मौजूदा समय में विद्यालय में 138 बच्चे नामांकित हैं जिन्हें शिक्षा के साथ ही अच्छे संस्कार भी सिखाये जा रहे हैं। नियमित रूप से प्रार्थना सभा में राष्ट्रगान के बाद कुछ ज्ञानवर्धक बातें भी बतायी जाती हैं। विद्यालय में नियमित शिक्षण के अतिरिक्त विद्यालय में पाठ्य सहगामी क्रियाकलाप भी नियमित रूप से करवाये जाते हैं। विभिन्न दिवसों पर प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। जिनमें विशेष रूप से सामान्य ज्ञान रंगोली चित्रकला मेहंदी गायन नृत्य आर्ट क्राफ्ट टी एल एम निर्माण सुलेख खेलकूद आदि का आयोजन कराया जाता है। प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला ने ही बताया कि नन्हे मुन्ने बच्चों के खेलने के लिये विभिन्न प्रकार के खिलौने सहित अन्य खेल सामग्री की विद्यालय में व्यवस्था है। वहीं स्कूल की दीवारों पर उकेरी गई पेंटिंग कार्टून और हिंदी व अंग्रेजी में अंकित की गई वर्णमाला समेत कई खासियत है जो स्कूल में उपलब्ध हैं। सिकंदरपुर कर्ण ब्लॉक की खंड शिक्षा अधिकारी मधुलिका बाजपेई ने बताया कि मॉडल प्राथमिक विद्यालय बेथर प्रथम में 138 बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला और उनके सहयोगियों की मेहनत की बदौलत ही स्कूल के छोटे-छोटे बच्चे अंग्रेजी को भी फर्राटे से पढ़ते हैं। बीईओ मधुलिका बाजपेई ने ही बताया कि प्रधानाध्यापिका नीतू शुक्ला ने सिकंदर कर्ण का ही नहीं अपितु पूरे जिले का मान बढ़ाया है। जो हम सबके लिए गर्व की बात है।

विद्यालय आदर्श बनाने में किये गये कार्यों का ब्यौरा

विद्यालय के सभी कक्षा-कक्षों की फर्श व दीवारों की मरम्मत करके लगवायी गयीं टाइल्स।
कमरों के बाहर बरामदों एवम् रसोईघर में भी लगवायी गयीं रंगीन टाइल्स।
विद्यालयों में पुट्टी लगवाकर बच्चों के आकर्षण हेतु कराया रंग रोगन का बेहतरीन कार्य।
आधुनिक सुविधाओं से युक्त नवीन शौचालयों का कराया निर्माण।
बच्चों के हाथ धुलने के लिये लगवाये गये वाशबेसिन।
भोजन करने हेतु मेस का कराया गया निर्माण।
विद्यालय प्रांगण में इंटरलॉकिंग टाइल्स एवम् ईंटों को गया लगवाया।
वृक्षों के चारों तरफ चबूतरों का कराया निर्माण।
दीवारों पर कराया गया बेहतरीन पेंटिंग्स का कार्य।
विद्यालय में विद्युत व्यवस्था के साथ ऑफिस समेत सभी कमरों में लगवाये गये पंखे।