दिल्ली में मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल की घोषणा के बाद पुरानी पेंशन बहाली को ले कर जनपद के कर्मचारियों में जगी आस!

49

सोनभद्र, उत्तर प्रदेश। दिल्ली मे अटेवा/NMOPS की पुरानी पेंशन बहाली रैली मे अटेवा-सोनभद्र ने किया प्रतिभाग।
26 नवम्बर सोमवार को NMOPS/अटेवा के तत्वाधान में देश के विभिन्न राज्यों में सरकारी विभागों के कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने की मांग को लेकर दिल्ली के रामलीला मैदान में हुंकार भरी।
पेंशनविहीनों के अपार जनसैलाब से दिल्ली का रामलीला मैदान छोटा पड़ गया इतनी विशाल संख्या से सहमी दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने रामलीला मैदान पहुँचकर सभी पेंशनविहीन साथियों की मांग को जायज ठहराया तथा तत्काल मंच से ही दिल्ली में पुरानी पेंशन की घोषणा का ऐलान किया तथा शाम को ही विशेष सत्र बुलाकर पुरानी पेंशन बहाली के प्रस्ताव को पास भी कर दिया।
नई पेंशन स्कीम को कर्मचारियों के साथ सबसे बड़ा धोखा बताते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि 3 माह में कर्मचारियों की मांग न मानी तो 2019 लोकसभा चुनाव में क़यामत आने वाली है।
दिल्ली के रामलीला मैदान में जिधर भी नज़र डालो बस पेंशनविहीनों का जनसैलाब ही नज़र आ रहा था केजरीवाल के घोषणा करने की सूचना मिलते ही तथा संसद कूच के कार्यक्रम को देखते हुए केंद्र सरकार की ओर से PMO कार्यालय ने आनन फानन में NMOPS के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय कुमार बन्धू को चर्चा के लिए बुला लिया तथा जल्द ही पुरानी पेंशन पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री से मिलाने का लिखित आश्वासन दिया।

दिल्ली के इस आंदोलन के लिए जनपद सोनभद्र से रंजना सिंह (प्रदेश प्रभारी, महिला प्रकोष्ठ),व राजकुमार मौर्य (जिलाध्यक्ष, अटेवा) की अगुवाई में रामगोपाल यादव, कमलेश सिंह, सर्वेश तिवारी, रविप्रकाश मौर्य, राधेश्याम पाल, सूर्यप्रकाश सिंह, राजेश बैस, राजेश सिंह, अभय त्रिपाठी, भोलेनाथ सिंह, उमा सिंह, साधू,बिहारी लाल, विष्णु, गोपाल सहित अन्य सैकड़ो की संख्या में पेंशनविहीन दिल्ली के रामलीला मैदान पहुँचे।