इलाहाबाद का नाम बदलने के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका, अकबर ने नाम नहीं बदला बसाया था जिला, लिया आधार

281

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश। जिले का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने के खिलाफ इलाहाबाद उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दाखिल की गई है। राज्य सरकार पर आरोप है कि नाम बदलने में नियमों की अनदेखी की गई है।

याची मोहम्मद अफ्फान के अधिवक्ता साहिब अली सिद्दीकी के अनुसार सोमवार को याचिका पर राज्य तथा केंद्र सरकार को नोटिस दिया जाएगा। इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को सुनवाई होने की संभावना है। याचिका में कहा गया है कि अनुच्छेद 51 (फ) में भारत के प्रत्येक नागरिक को प्राचीन धरोहरों तथा संस्कृति की सुरक्षा करने का अधिकार है। बिना केंद्र सरकार की पूर्व अनुमति के राज्य सरकार की ओर से जिले का नाम बदलना अनुचित है। याचिका में आधार लिया गया है कि मुगल शासक अकबर ने प्रयाग का नाम नहीं बदला बल्कि उन्होंने इलाहाबाद के नाम से नया जिला बनाया था। याचिकाकर्ता को मामले पर स्टे मिलने की उम्मीद है।