‘एक शाम बिरहा के नाम’ में लोक बिरहा कलाकारों ने समां बांधा, भाव विभोर हुए श्रोता

38

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश। संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से मऊआइमा के मूल्हापुर कुटिया पर ‘एक शाम बिरहा के नाम’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न जिलों से आए बिरहा कलाकारों ने
शानदार प्रस्तुतियां दीं। दोपहर से शुरू हुआ कार्यक्रम शाम तक चलता रहा। बिरहा सुनने के लिए दूर दराज से भारी संख्या में पहुंचे ग्रामीण रात तक डटे रहे।

इस अनूठे और शानदार बिरहा कार्यक्रम में लोककला महासंघ
के प्रदेश अध्यक्ष कमलेश चंद्र मुख्य अतिथि रहे। संचालन जगदीश यादव तथा
अध्यक्षता राधेश्याम ने किया। इस अवसर पर कलाकार व निर्देशक रामदेव, रामसूरत दीवाना, जंगबली, शकरलाल, कंचनलाल, जगदीश प्रसाद, शिल्पा सिवानी,
जयसिंह पाल, राकेश कुमार, सोना सुहानी, रामगुलाब मौर्य, लालबहादुर रागी, श्रीराम सुमेरवाल, अभयराज,
पवन कुमार, कृष्ण कुमार, अतुल
कुमार, मदनलाल, अखिलेश विश्व, ओमप्रकाश, पंचमलाल, राजेंद्र प्रसाद,
बदलूराम, जगतबहादुर, इंद्रेश, प्रवीण, जयसिंह, रामानंद, महेश, अशोक,
रामप्रकाश, रमेश कुमार, महेश, राकेश, रामचंद्र, दीपचंद्र, धनाराम, रामनरेश,
शिवकुमार, प्रिंशु, सरिता, अनिल यादव, रामपाल, धर्मपाल तथा दिनेश कुमार बड़ी संख्या में कलाकार तथा ग्रामीण उपस्थित
रहे।