मथुरा धाम की कथावाचिका देवी साधवी शर्मा ने नंद उत्सव व नटखट नंदलाल की मनमोहन लीलाओं का किया वर्णन

23

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश। भरवारी मे हो रही भागवत मे श्रीकृष्ण लीला।
कोखराज( कौशाम्बी ) नगरपालिका परिषद भरवारी मे हो रही श्रीमद् भागवत कथा के दौरान नंद उत्सव व नटखट नंदलाल की मनमोहन लीलाओं का वर्णन किया गया। मथुरा धाम से पधारे कथावाचिका देवी साधवी शर्मा के मुखारबिंद से प्रसंग व भजन सुनकर श्रद्धालु खुशी से झूमने लगे।

भरवारी नयाबाजार बिन्दा मिल के पास प्रांगण में आयोजित संगीतमय भागवत कथा के दौरान कृष्ण की माखन मटकी फोड़ के साथ कृष्ण द्वारा गोपियों के आग्रह पर माखन चोरी का प्रसंग सुनाया। बाल व्यास ने कहा कि यशोदा का अहंकार था तो कृष्ण नहीं बंधे, लेकिन प्रेम से श्रीकृष्ण भक्तों के बंधन में बंध जाते हैं। जब जीव मन वचन काया से स्मरण करता है तो प्रभु कृपा कर देते हैं। प्रभु अपने भक्तों से दूर नहीं रह सकते हैं। भगवान श्रीकृष्ण के घर गायों और माखन की कमी नहीं थी। बावजूद इसके गोपियों के अटूट प्रेम के चलते भगवान श्रीकृष्ण माखन चोर कहलाए। उन्होंने जब यशोदा मां को माटी खाने के बहाने मुख में ब्रह्मांड के दर्शन कराए तब यशोदा को अहसास हो गया कि उनका लल्ला कोई साधारण नहीं, ये परम ब्रह्म का अवतार है। इसके बाद श्रीकृष्ण की माखन लीला और गोवर्धन पूजा प्रसंग का मंचन किया गया। कलाकारों द्वारा प्रस्तुत मंचन के दौरान श्रीकृष्ण के जयघोष से वातावरण गुंजायमान हो गया ।सात दिवसीय भागवत कथा के आयोजक ज्ञान चन्द केशरवानीधर्म पत्नी मुन्नी देवी तथा राजेश केशरवानी ने बताया कि कथावाचिका देवी साधवी राधा शर्मा राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री धाम व्रन्दावन मथुरा से हैं। नगर पुरोहित सुरेन्द्र शुक्ला पप्पू, राजेश रानी मनोज मीनू नितिन प्रिन्सी सुनील, सुमन अरविन्द किरन अशीष गुन्जन राजकुमार मन्जू सुभाषचन्द सुनीता प्रमोद विनीता शैलेन्द्र अनीता छोटू निखिल यश कैलाश केसरवानी अशोक गुलाटी बाके लाल केसरवानी मुनीम जी राजेश बब्बू अग्रवाल आदि मौजूदा रहे।