केंद्र की सरकार किसान विरोधी – संजय

मोहित गुप्ता मुसाफिरखाना की रिपोर्ट

*मुसाफिरखाना(अमेठी*)।।मंगलवार को यूपी-दिल्ली बार्डर पर किसानों पर किये गए बर्बर लाठीचार्ज और दमनात्मक कार्यवाही को कांग्रेस सेवादल के जिला संगठन मंत्री संजय गुप्ता ने शर्मनाक बताया।उन्होंने कहा कि जब पूरा देश राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री स्व लालबहादुर शास्त्री की जयंती पर उन्हें याद कर रहा था तो ऐसे मौके पर किसानों को राजघाट जाने पर रोका गया और बर्बर लाठीचार्ज किया गया।श्री गुप्ता ने कहा कि किसानों पर हुआ लाठी चार्ज बीजेपी सरकार की किसान बिरोधी नीति को प्रमाणित करता है कॉंग्रेस ने हमेशा किसानों के हित में काम किया और उनके हितों के लिये संघर्ष किया है कॉंग्रेस किसानों के इस लड़ाई में उनके साथ खड़ी हैं उन्होंने कहा कि दुःख की बात यह है कि दस दिन से अन्नदाता किसान सैकड़ो मीटर की पदयात्रा कर दिल्ली के बॉर्डर तक पहुच गए लेकिन न तो प्रदेश सरकार न ही केंद्र सरकार ने किसी जिम्मेदार अधिकारी या प्रतिनिधि को किसानों के वार्ता के लिये भेजा।इससे जाहिर होता है कि भाजपा सरकार किसानों की समस्याओं को लेकर कितना असंवेदनशील और गैर जिम्मेदाराना रवैया अपना रही है।मोदी किसानों से, युवाओं से,और बेरोजगारों से डरता है पुलिस को आगे करता है कहते हुए कहा कि जिस तरह केंद्र में बैठी सरकार किसानों पर लाठियां चलवाई उससे स्पष्ट दिखाई पड़ता है कि कि कितनी बेशर्मी सरकार है मोदी जी अपना पेट स्वयं खेती करके नहीं भरते इन्हीं किसान भाइयों की मेहनत से वो भी अपना पेट भरते हैं और उन्हीं के ऊपर उन्होंने लाठियां चलवाई इसकी घोर निंदा करता हूं और स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ रहा है कि मोदी सरकार कितना बौखलाए हुई है क्योंकि उनको भी पता है कि 2019 में अब उनकी सरकार नहीं बनेगी,मोदी जी, किसान देश का अन्न दाता है, जिस थाली में खाते हो उसमें छेद मत करिये।