भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी की 95वीं जयन्ती पर ‘‘सुशासन दिवस’’ का हुआ आयोजन

अमेठी से अशोक श्रीवास्तव की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के अमेठी में भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी की 95वीं जयन्ती के अवसर पर जनपद के समस्त विकास खण्डों में ‘‘सुशासन दिवस’’ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा ब्लाक परिसरों मे पेंशन वितरण, राशन कार्ड वितरण, वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन एवं दिव्यांग पेंशन के कैम्प का आयोजन किया गया एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविर का भी आयोजन किया गया जिसमें काफी संख्या में लोगों ने भागीदारी की और योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। जिसमें सभी ब्लाकों में विधवा पेंशन के 196, वृद्धा पेंशन के 569 तथा दिव्यांग पेंशन के 23 आवेदन प्राप्त हुए।

 

सुशासन दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी शकुन्तला गौतम ने कहा कि सुशासन दिवस का प्रमुख उद्देश्य यह है कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को मिले तभी सुशासन दिवस मनाने का उद्देश्य पूर्ण होगा। सुशासन का वास्तविक अर्थ यह है कि किसी भी कार्य को पूर्ण पारदर्शिता के साथ सम्पन्न किया जाये और पारदर्शिता में लापरवही बरतने वाले की जवाबदेही तय हो। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का निर्देश है कि खुले में रह रहे लोगों के लिये रैन बसेरा, अलाव जलाने की व्यवस्था व कम्बल आदि की सहायता उपलब्ध करायी जाये जिससे ठण्ड के कारण किसी भी व्यक्ति की हानि न पहुॅचे।
इस अवसर पर उपजिलाधिकारी अमेठी धीरेन्द्र प्रताप सिंह, तहसीलदार अमेठी एसपी सिंह सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।