भारतवर्ष के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं द्वितीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती कलेक्ट्रेट सभागार में मनायी गयी

प्रतापगढ़ :-भारतवर्ष के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं एवं पूर्व द्वितीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की 115वीं जयन्ती कलेक्ट्रेट सभागार में मनायी गयी। कार्यक्रम की शुरूआत में जिलाधिकारी शम्भु कुमार द्वारा महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के चित्र पर मार्ल्यापण किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी ने जीवन भर सत्य एवं अहिंसा का पालन किया और इन्हीं हथियारों के बल पर उन्होने हम सभी को अंग्रेजो से स्वतंत्रता दिलायी। उन्होने बताया कि गांधी जी रामराज अर्थात आदर्श राज्य की परिकल्पना किया करते थे, वे चाहते थे कि देश में ऐसा राज्य स्थापित हो जहां धार्मिक, सांस्कृतिक एवं राष्ट्रवाद का बोल-बाला हो। उन्होने शास्त्रीय जी द्वारा स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद गरीबों, किसानों एवं मजलूमों के उत्थान के लिये किये गये कार्यो से लोगों को परिचित कराया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) मनोज कुमार, चिन्तामणि पाण्डेय, विवेक उपाध्याय अन्य वक्ताओं ने अपने-अपने विचार व्यक्त किये। जी0जी0आई0सी0 की छात्राओं द्वारा देशभक्ति गीत की प्रस्तुत की गयी।