स्वच्छ्ता को लेकर विशेष रैली, राष्ट्रीय सर्वेक्षण में प्रथम स्थान पाने के लिए नगर वासियो ने ली शपथ।

64

प्रयागराज

आने वाले वर्ष में आयोजित हो रहे संगम नगरी पर भव्य कुंभ की स्वच्छता की छाप पूरे विश्व में पड़े और लोग स्वच्छता की में इसकी मिसाल कायम करें इसको लेकर के जनपद प्रयागराज में आज एक विशेष स्वच्छता रैली का आयोजन किया गया। जिसमें शहर भर के स्कूलों से हजारों छात्र-छात्राओं के अलावा वार्ड सभासद व सामान्य नागरिकों ने इस में भाग लिया ।
रैली में भाग लेने पहुंचे मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जब हम अपने देश से बाहर जाते हैं तो हम वहां के स्वच्छता वहां की कल्चर के हिसाब से कार्य करते हैं लेकिन जब हम वापस अपने देश में आते हैं तो इसकी स्थिति पूरी उलट होती है और कूड़ा करकट कहीं भी फेंक देते हैं।

आने वाले वर्ष में प्रयाग में कुंभ का आयोजन हो रहा है जो हमारी संस्कृति परंपरा और इसके वैभव का प्रतीक है हम इसके माध्यम से स्वच्छता की झलक पूरे देश में छोड़ना चाह रहे हैं अब इसकी जिम्मेदारी आप लोगों पर है उन्होंने कहा कि पूरे जनपद में स्वच्छता का माहौल बने इसके लिए यह रैली का आयोजन किया जा रहा है।

हम प्रदेश सरकार की ओर से स्वच्छ भारत प्रतियोगिता का भी आयोजन कर रहे हैं जिसे एक दो और तीन नंबर दिया जाएगा यही नहीं सबसे बेहतर काम करने वाले स्वच्छता कर्मियों को सम्मानित किया जाएगा ।स्वच्छता के दौरान अलग छाप छोड़ने वाले को प्रदेश स्तर पर बुला करके उसे सम्मान किया जाएगा उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने आजादी से अधिक महत्वपूर्ण स्वच्छता को दिया था यही नही हमारे देश के प्रधानमंत्री ने इसको लेकर के एक मुहिम ही छेड़ रखी है । यही नहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालने के बाद श्रमदान के माध्यम से झाड़ू उठाई और स्वच्छता का एक और कुष्ठ नमूना पेश किया था संबोधन के दौरान उन्होंने जानकारी दी कि आगामी चार जनवरी से 31 जनवरी तक राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण का कार्य शुरू होगा उससे पहले हम लोगों के अंदर एक माहौल जगाना जा रहे हैं जिसके जिम्मेदारी आप स्वयं लेकर लेकर इसे सफल बनायें ।

हमारा जनपद स्वच्छ हो इसकी छाल पूरे विश्व में पड़े यह सिर्फ सरकार ही नहीं यहां के नागरिकों की जिम्मेदारी है निश्चित रूप से आयोजित रैली लोगों के अंदर जागरूकता लाने का प्रयास करेगी इस दौरान उन्होंने कहा कि इंदौर शहर राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण वर्ष 2016 में किसी भी स्थान पर नहीं था लेकिन वहां के नगर आयुक्त और संकल्प लिया था कि हम इसे नंबर एक पर ले आएंगे इस संकल्प को आगे ले लेते हुए उन्होंने स्वच्छता के प्रति समर्पण भाव किया नतीजा दोनों राष्ट्रीय सर्वेक्षण में प्रथम स्थान पर आए।

इस दौरान गंगा की स्वछता को लेकर पपेट शो किया गया, और उपस्थित लोगों को स्वछता का संकल्प दिलाया गया।

संवाददाता सत्यम शुक्ल के साथ आशीष शुक्ल कैमरा मैन